Hindi Moral Story “Khud me Achi Chijen Dekhen”, “खुद में अच्छी चीजें देखें ” for Kids, Full length Educational Story for Students of Class 5, 6, 7, 8, 9, 10.

काले कौवे की दुःखी कहानी

एक जंगल में एक कौवा रहता था और वह अपनी जिंदगी से बहुत दुखी था.वह जब भी जंगल में घूमता तो दुसरे पक्षियों को भी देखता था और उन्हें देखकर उसे लगता की उसका रंग बहुत काला है और यही उसके दुःख का असली कारण था. अब रोज का यही सिलसिला था तो वह कौवा उदास रहने लग गया था।

एक दिन जब वह जंगल में उड़ रहा था तो उसने एक तालाब में बतख को तैरते देखा तो वह एक पेड़ में बैठ गया और सोचने लगा की यह बतख कितना सफ़ेद है.काश मेरा भी रंग सफ़ेद होता. फिर कुछ देर बाद वह कौवा बतख के पास गया|

बतख के पास जाते ही कौवा उससे बोला- तुम बहुत खुशकिस्मत हो जो तुम्हारा रंग सफ़ेद है. बतख ने कौवे की बात सुनी|

बतख ने कौवे से बोला- हाँ मैं सफ़ेद तो हूँ लेकिन जब मैं हरे रंग के तोते को देखता हूँ तो मुझे अपने इस सफ़ेद रंग से गुस्सा आता है।

बतख की बात सुनकर वह कौवा वहा से चला गया और कुछ समय बाद वह तोते के पास पहुंचा.

कौवा तोते से बोला- तुम्हारा रंग तो बहुत सुन्दर है तुमको यह देखकर बहुत अच्छा लगता होगा।

कौवे की बात सुनकर तोता बोला- हाँ,मुझे लगता तो अच्छा है की मैं इतना सुंदर हूँ लेकिन मैं सिर्फ हरा हूँ और जब कभी भी मैं मोर को देख लेता हूँ तो मुझे बहुत बुरा लगता है क्योंकि मोर बहुत खुबसूरत है और उसके पास बहुत सारे रंग है.

कौवे को लगा यह बात भी सही है क्यों न अब मोर के पास ही चला जाय.

वह कौवा जंगल में मोर को ढूढने लगा किन्तु उसे मोर नहीं मिला फिर वह कुछ दिन बाद एक चिड़ियाघर में जा पहुंचा.

जहा उसे मोर दिख गया लेकिन मोर को देखने के लिए बहुत सारे लोगो की भीड़ जमा हुई थी तो कौवा उन लोगो के जाने का इन्तेजार करने लगा. जब वे सब लोग चले गये तो…

कौवा मोर के पास पहुंचा और मोर से बोला- वाह मोर,तुम तो सच में बहुत खुबसूरत हो तभी सब तुम्हारी इतनी तारीफ करते है. तुमको तो खुद पर बहुत गर्व महसूस होता होगा.

कौवे की बात सुनकर मोर बड़े दुःख के साथ बोला- तुम्हारी बात बिल्कुल ठीक है पर मेरे अलावा इस दुनिया में कोई और दूसरा खुबसूरत पक्षी नहीं है इसलिए मैं यहाँ चिड़ियाघर में कैद हूँ।

यहाँ पर सब मेरी रखवाली करते है जिस कारण में कही भी नहीं जा सकता और अपने मन के मुताबिक कुछ भी नहीं कर सकता है.

मैं भी काश तुम्हारी तरह कौवा होता तो मुझे भी कोई कैद करके नहीं रखता और मैं भी हमेशा तुम्हारी तरह खुले आसमान में जहा चाहो वहा घूमता रहता पर एक मोर के लिए यह सब मुमकिन नहीं.

कौवे ने मोर की सारी बातें सुनी और फिर वहा से चले गया और सारी बात समझ गया. उसे इस बात का अहसास हो गया था कि सिर्फ वो ही नहीं बल्कि हर कोई उसकी तरह दुखी और परेशान है।

इस कहानी की प्रेरणा- कोई आदमी कितना सुखी है वह सिर्फ वो ही आदमी जानता है क्योंकि हर किसी के अपने जीवन में कई परेशानीयाँ होती है अपने दुःख होते है। इसलिए हमें दुसरे के सुख से जलन करते हुए उससे सीखना चाहिए तथा खुद में जो अच्छी चीजे है उनको देखना चाहिए की कमजोरी को. अगर कोई कमजोरी होती भी है तो उसे दूर करना चाहिये.

Related posts:

Moral Story "Money can't buy everything " for Kids and Children, English Story for Class 5, 6, 7, 8,...
Children Story
Moral Story "Being Honest " for Kids and Children, English Story for Class 5, 6, 7, 8, 9, 10, compe...
Children Story
Hindi Moral Story "Chalak Lombdi", "चालाक लोमड़ी” for Kids, Full length Educational Story for Student...
Children Story
English Short, Moral Story “Follow Your Dream" for Kids and Children for Class 5, 6, 7, 8, 9, 10, co...
Children Story
Akbar-Birbal English Moral Story "Hunting & Dowry" for Kids, Educational Story for Students of class...
Moral Story
English Short, Moral Story “The Egg Ploy" for Kids and Children for Class 5, 6, 7, 8, 9, 10, competi...
Moral Story
English Short, Moral Story “The Manager" for Kids and Children for Class 5, 6, 7, 8, 9, 10, competit...
Moral Story
English Short, Moral Story “Trust in God” for Kids and Children for Class 5, 6, 7, 8, 9, 10, competi...
Moral Story
English Inspirational Story “Don't Blindly Trust Others” Moral Story for kids and Students.
Moral Story
Hindi Moral Story "Sangharsh Hi Jivan Hai", "संघर्ष ही जीवन है” for Kids, Full length Educational St...
Children Story
English Short, Moral Story “Never Judge without Understanding” for Kids and Children for Class 5, 6,...
Moral Story
English Short Moral Story “Our struggles in life develop our strengths” Inspirational Story for Kids...
English Speech
Short Story "The Three Cows" for Children, moral story for kids in English for competition with mora...
Children Story
Hindi Moral Story "Apsi Matbhed”, "आपसी सदभाव” for Kids, Full length Educational Story for Students ...
हिंदी कहानियां
English Moral Story "Lion and Brahmin" for Kids, Full length Educational Story for Students of Class...
Children Story
English Moral Story "Three effigies" for Kids, Full length Educational Story for Students of Class 5...
Children Story
English Inspirational Story “Impressions Last” Moral Story for kids and Students.
Moral Story
English Short, Moral Story “A Town Mouse and a Country Mouse" for Kids and Children for Class 5, 6, ...
Moral Story
Short Story " What goes around comes around" for Children, moral story for kids in English for compe...
Children Story
English Short, Moral Story “Treat People the way You want to Be" for Kids and Children for Class 5, ...
Children Story

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.