Hindi Moral Story “Chori Pakdi”, “चोरी पकड़ी” for Kids, Full length Educational Story for Students of Class 5, 6, 7, 8, 9, 10.

चोरी पकड़ी

एक बार राजा कृष्णदेव राय के राज्य विजयनगर में लगातार चोरी होनी शुरू हुई। सेठों ने आकर राजा के दरबार में दुहाई दी, ‘महाराज हम लूट गए बरबाद हो गए। रात को ताला तोड़कर चोर हमारी तिजोरी का सारा धन उड़ा ले गए।’

राजा कृष्णदेव राय ने इन घटनाओं की जांच कोतवाल से करवाई, पर कुछ भी हाथ नहीं लगा। वे बहुत चिंतित हुए। चोरी की घटनाएं होती रहीं। चोरों की हिम्मत बढ़ती जा रही थी।

अंत में राजा ने दरबारियों से जोर आवाज़ में कहा, ‘क्या आप में से कोई भी ऐसा नहीं, जो चोरों को पकड़वाने की जिम्मेदारी ले सके?’

सारे दरबारी एक- दूसरे का मुंह देखने लगे। तेनालीराम ने उठकर कहा, ‘महाराज यह जिम्मेदारी मैं लूंगा।’

वहां से उठकर तेनालीराम नगर के एक प्रमुख जौहरी के यहां गया। उसने अपनी योजना उसे बताई और घर लौट गया। उस जौहरी ने अगले दिन अपने यहां आभूषणों की एक बड़ी प्रदर्शनी लगवाई। रात होने पर उसने सारे आभूषणों को एक तिजोरी में रखकर ताला लगा दिया।

आधी रात को चोर आ धमके। ताला तोड़कर तिजोरी में रखे सारे आभूषण थैले में डालकर वे बाहर आए। जैसे ही वे सेठ की हवेली से बाहर जाने लगे सेठ को पता चल गया, उसने शोर मचा दिया।

आस-पास के लोग भी आ जुटे। तेनालीराम भी अपने सिपाहियों के साथ वहां आ धमके और बोले, ‘जिनके हाथों में रंग लगा हुआ है, उन्हें पकड़ लो।’ जल्द ही सारे चोर पकड़े गए। अगले दिन चोरों को दरबार में पेश किया गया। सभी के हाथों पर लगे रंग देखकर राजा ने पूछा, ‘तेनालीरामजी यह क्या है?’

‘महाराज हमने तिजोरी पर गीला रंग लगा दिया था ताकि चोरी के इरादे से आए चोरों के शरीर पर रंग चढ़ जाए और हम उन्हें आसानी से पकड़ सकें।’

राजा ने पूछा, ‘पर आप वहां सिपाहियों को तैनात कर सकते थे।’

‘महाराज इसमें सिपाहियों को चोरों से मिल जाने की संभावना थी।’

यह सुनकर राजा कृष्णदेव राय ने तेनालीराम की खूब प्रशंसा की और चोरों को आसानी के साथ पकड़ लिया गया|

Related posts:

English Short, Moral Story “The Donkey on Wheels" for Kids and Children for Class 5, 6, 7, 8, 9, 10,...
Moral Story
Akbar-Birbal English Moral Story "Akbar is Greater than God" for Kids, Educational Story for Student...
Moral Story
English Short, Moral Story “Love Your Parents” for Kids and Children for Class 5, 6, 7, 8, 9, 10, co...
Moral Story
Akbar-Birbal English Moral Story "Master or Servant?" for Kids, Educational Story for Students of cl...
Uncategorized
Hindi Moral Story "Waiter ki Tip", "वेटर की टिप” for Kids, Full length Educational Story for Student...
Children Story
English Short, Moral Story “The Egg Ploy" for Kids and Children for Class 5, 6, 7, 8, 9, 10, competi...
Moral Story
English Short, Moral Story “Lazy Farmer” for Kids and Children for Class 5, 6, 7, 8, 9, 10, compet...
Moral Story
English Short, Moral Story “Power of words” for Kids and Children for Class 5, 6, 7, 8, 9, 10, compe...
Moral Story
English Inspirational Story “Creative Problem Solving” Moral Story for kids and Students.
Moral Story
Hindi Moral Story "Chakravarti Kaun?" "चक्रवर्ती कौन?" Best Motivational Story of "Pushya".
Story
English Short, Moral Story “The lion and the hare" for Kids and Children for Class 5, 6, 7, 8, 9, 10...
Moral Story
Short Story " Humanity" for Children, moral story for kids in English for competition with moral val...
Children Story
Hindi Moral Story "Tenaliram ki Chaturaai", "तेनालीराम की चतुराई” for Kids, Full length Educational ...
Children Story
English Short, Moral Story “Story of Alfred" for Kids and Children for Class 5, 6, 7, 8, 9, 10, comp...
Children Story
English Inspirational Story “The Cure for Melancholy” Moral Story for kids and Students.
Moral Story
Akbar-Birbal English Moral Story "The True King" for Kids, Educational Story for Students of class 5...
Short Story
English Short, Moral Story “The Worry Men" for Kids and Children for Class 5, 6, 7, 8, 9, 10, compet...
Moral Story
Hindi Moral Story "Do Biliyan aur Bandar", "दो बिल्लियाँ और बन्दर” for Kids, Full length Educational...
Children Story
English Short, Moral Story “A friend in need is a friend indeed" for Kids and Children for Class 5, ...
Moral Story
Akbar-Birbal Hindi Moral Story "Teen Sawal", "तीन सवाल" for Kids, Educational Story for Students of ...
Children Story

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.