Lekhni mitra ko ek Patra-Aupcharik “लेखनी मित्र को पत्र – औपचारिक” Sample Hindi Letter Writing Example.

लेखनी मित्र को पत्र – औपचारिक ।

Hindi-Letter-Writing-GyanIQ

श्याम भवन,

दरियागंज, नई दिल्ली -2 ।

दिनांक 15 मई,

प्रिय कुमारी विपला,

सप्रेम नमस्ते ।

अत्र कुशलं तत्रास्तु । दो दिन पूर्व ‘लेखनी मित्र संघ’ कोलकाता की पत्रिका में तुम्हारा पूर्ण परिचय पढ़ा । मुझे यह जानकर अत्यंत खुशी हुई कि तुम भी मेरी भाँति ही कला प्रेमी हो । अत: मैत्री संबंध स्थापित करने के लिए यह पत्र लिख रहा हूँ।

मैं यहाँ दिल्ली पब्लिक स्कूल, नई दिल्ली की दसवीं कक्षा का छात्र हूँ। वैसे मैं कोलकाता का ही रहने वाला हूँ। मौसी के यहाँ दिल्ली में अध्ययन के लिए आया हुआ हूँ । एक प्रकार से घर वालों से दूर रहने का मुझे अभिशाप-सा मिला हुआ है।

मझे चित्रकला और फोटोग्राफी का बड़ा शौक है । मैं यहाँ पर शंकर चित्रकला प्रतियोगिताओं में सदैव भाग लेता रहा हूँ। कई बार मेरे बनाए हुए चित्रों पर प्रथम व द्वितीय पुरस्कार भी आए हैं। वे पुरस्कृत चित्र यथासमय ‘शंकर वीकली’ के वार्षिक अंक में प्रकाशित हुए हैं। इसके अतिरिक्त छुट्टी के दिन मैं यहाँ के आस पास के प्राकृतिक दृश्यों के अवलोकनार्थ निकल जाया करता हूँ, उनमें से कुछ को तूलिका से कागज़ पर उतार लेता हूँ और कुछ को कैमरे से रील में बंद कर लेता हूँ। मेरी एलबम में लोक-जीवन से संबंधित चित्र भी भरे पड़े हैं।

तुम दक्षिण भारत की स्वर्गिक स्थली में रह रही हो । नारियल के ऊँचे-ऊँचे पेड़ और त्रिवेंद्रम से कन्याकुमारी तक नौका विहार का तो तुमने कितनी ही बार आनंद लूटा होगा । कदाचित प्रकृति के सुंदर दृश्यों को भी उतारा होगा । मुझे यहाँ की प्राकृतिक छटा के कुछ चित्र चाहिए । यदि उन्हें डाक द्वारा भेज सको तो बड़ी कृपा होगी।

मैं भी इस पत्र के साथ कुछ चुने हुए फोटोग्राफ तथा एक प्रकाशित कला चित्र भेज रहा हूँ । इसके अलावा मेरे योग्य कोई काम हो तो लिखना ।

शेष तुम्हारा उत्तर मिलने पर ।

तुम्हारा सद्भावी,

अतुल

Related posts:

Shaher me Baso ki Bigadti Halat aur Kuvyavastha par Sampadak ko Patra “अपने शहर की बसों की बिगड़ती ह...
Hindi Letter Writing
Putri ke Panigrahan sanskar par nimantran patra “पुत्री के पाणिग्रहण संस्कार पर निमंत्रण पत्र” Sampl...
Hindi Letter Writing
Premi ke Pichle patra ka jawab dete hue Premika ka patra "प्रेमी के पिछले पत्र का जवाब देते हुए प्रे...
Hindi Letter Writing
Rail Karamchari dwara Abhadra Vyavahar ki shikayat karte hue Patra “रेल-कर्मचारी के अभद्र व्यवहार की...
Hindi Letter Writing
Hindi Letter on “Hostel me reh rahe chote bhai ko niyamit roop se Morning Walk karne ki prerna patra...
Hindi Letter Writing
Most Asked "Hindi Letters" in Class 10 and 12 CBSE Board Examination Previous Years.
Hindi Letter Writing
Hindi Letter on “Apne Janamdin par mitra ko Nimantran Patra”, “अपने जन्मदिन पर मित्र को निमंत्रित पत...
Hindi Letter Writing
Ek Premi ka Premika ke naam Pranay Patra "एक प्रेमी का प्रेमीका के नाम प्रणय पत्र" Sample Hindi Lett...
Hindi Letter Writing
Apne pass bulane ke liye Mami ka Bhanji ke naam patra "अपने पास बुलाने के लिए मामी का भानजी के नाम प...
Hindi Letter Writing
Hindi Letter on “Apni Manpasand Film ke bare me batate hue Mitra ko Patra”, “अपनी मनपसंद फिल्म के बा...
Hindi Letter Writing
Videsh mitra ko apni bhasha tha apne desh me hi rehne ke vishay me patra “विदेशी मित्र को अपनी भाषा ...
Hindi Letter Writing
Hindi Letter on “Doodh mein Milavat ki Jankari dete hue Swasthy Adhikari ko Patra”, “दूध में मिलावट ...
Hindi Letter Writing
Hindi Letter on “ Jurmana Mafi ke liye Principal Ko Prarthna Patra”, “जुर्माना माफी के लिए प्रधानाचा...
Hindi Letter Writing
Pita ki Mrityu par samvedna prakat karte hue mitra ko patra "पिता की मृत्यु पर संवेदना प्रकट करते हु...
Hindi Letter Writing
Hindi Letter on “Chote Bhai ko Fijulkharchi par niyantran karne ke bare me patra”, “छोटे भाई को फिजू...
Hindi Letter Writing
Hindi Letter on “Pariksha Ke dino me Loud-Speakers ka Shor Badhne par SHO ko Patra”, “परीक्षा के दिन...
Hindi Letter Writing
Hindi Letter on “Vidyalaya ke Vriksharopan Samaroh ke anubhav ko batate hue chote bhai ko patra”, “व...
Hindi Letter Writing
Hindi Letter on “Hostel me reh rahe chote bhai ko acche mitra ke gun batate hue patra”, “हास्टल में ...
Hindi Letter Writing
Hindi Letter on “Mitra ko Parvatiya Sthal ki Yatra ke Anubhav Batate hue patra”, “पर्वतीय स्थल की या...
Hindi Letter Writing
Hindi Letter on “Paryatan Sthano me Bhojan aur Aawas ki jankari dete hue Adhikari ko patra”, “पर्यटन...
Hindi Letter Writing

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.