Hindi Moral Story “Ulti Ganga”, “उल्टी गंगा” for Kids, Full length Educational Story for Students of Class 5, 6, 7, 8, 9, 10.

उल्टी गंगा

Ulti Ganga

एक बनिया था। भला था। भोला था। नीम पागल था। एक छोटी सी दुकान चलाता था, दाल, मुरमुरे, रेवड़ी जैसी चीजें बेचता था और शाम तक दालरोटी का जुगाड़ कर लेता था। एक रोज दुकान बंद कर देर रात वह अपने घर जा रहा था, तभी रास्ते में उसे कुछ चोर मिले। बनिये ने चोरों से पूछा, इस वक्त अँधेरे में आप लोग कहाँ जा रहे हैं ? चोर बोले, भैया, हम तो सौदागर हैं। आप हमें क्यों टोक रहे हैं ? बनिये ने कहा, लेकिन एक पहर रात बीतने के बाद आप जा कहाँ रहे हैं ? चोर बोले, माल खरीदने। बनिये ने पूछा, माल नकद खरीदोगे या उधार ? चोर बोले, न नकद, न उधार। पैसे तो देने ही नहीं हैं। बनिये ने कहा, आपका यह पेशा तो बहुत बढ़िया है। क्या आप मुझे भी अपने साथ ले चलेंगे ? चोर बोले, चलिए। आपको फ़ायदा ही होगा। बनिये ने कहा, बात तो ठीक है। लेकिन पहले यह तो बताओ कि यह धंधा कैसे किया जाता है ? चोर बोले, लिखो किसी के घर के पिछवाड़े… बनिये ने कहा, लिखा। चोर बोले, चुपचाप सेंध लगाना… बनिये ने कहा, लिखा। चोर बोले, फिर दबे पाँव घर में घुसना… बनिये ने कहा, लिखा। चोर बोले, जो भी लेना हो, सो इकट्ठा करना… बनिये ने कहा, लिखा। चोर बोले, न तो मकान मालिक से पूछना और न उसे पैसे देना… बनिये ने कहा, लिखा। चोर बोले, जो भी माल मिले उसे लेकर घर लौट जाना। बनिये ने सारी बातें कागज पर लिख लीं और लिखा हुआ कागज जेब में डाल लिया।

 

बाद में सब चोरी करने निकले। चोर एक घर में चोरी करने घुसे और बनिया दूसरे घर में चोरी करने पहुँचा। वहाँ उसने ठीक वही किया जो कागज में लिखा था। पहले पिछवाड़े सेंध लगाई। दबे पाँव घर में घुसा। दियासलाई जलाकर दीया जलाया। एक बोरा खोजकर उसमें पीतल के छोटे बड़े बरतन बड़ी बेफ़िक्री से भरने लगा। तभी एक बड़ा तसला उसके हाथ से गिरा और सारा घर उसकी आवाज से गूँज उठा। घर के लोग जाग गए। सबने चोरचोर चिल्लाकर बनिये को घेर लिया और उसे मारनेपीटने लगे। बनिये को ताज्जुब हुआ। मार खाते उसने अपनी जेब में रखा कागज निकाला और उसे एक नजर पढ़ डाला। फिर तो वह जोश में आ गया। जब सब लोग उसकी मरम्मत कर रहे थे, तब बनिया बोला— भाइयों, यह तो लिखापढ़ी से बिलकुल उलटा हो रहा है। यहाँ तो उलटी गंगा बह रही है। बनिये की बात सुनकर सब सोच में पड़ गए। मारनापीटना रोककर सबने पूछा, यह तुम क्या बक रहे हो ? बनिये ने कहा, लीजिए, यह कागज देख लीजिए। इसमें कहीं पिटाई का जिक्र है ? घर के लोग तुरंत समझ गए। उन्होंने बनिये को घर से बाहर धकेल दिया। सोचविचारकर किया कार्य कभी कष्टदायक नहीं होता है।

Related posts:

English Moral Story "Who is big" for Kids, Full length Educational Story for Students of Class 5, 6,...
Children Story
English Moral Story "Whenever God gives He gives beyond the limit" for Kids, Full length Educational...
Children Story
English Inspirational Story “Big Speech, Small Impact” Moral Story for kids and Students.
Moral Story
English Short, Moral Story “Engineer John Roebling Story" for Kids and Children for Class 5, 6, 7, 8...
Children Story
English Short, Moral Story “When The Winds Blow” for Kids and Children for Class 5, 6, 7, 8, 9, 10, ...
Short Story
Hindi Moral Story "Vah Sundari Kise Milegi", "वह सुंदरी किसे मिलेगी” for Kids, Full length Education...
Children Story
English Moral Story "The Fruit of Experience" for Kids, Full length Educational Story for Students o...
Children Story
Hindi Moral Story "Apshabdo ka Parinam" "अपशब्दों का परिणाम" Best Motivational Story of "Sant Bahina...
Story
English Inspirational Story “Be Your Own Rival” Moral Story for kids and Students.
Moral Story
English Short, Moral Story “The Worry Men" for Kids and Children for Class 5, 6, 7, 8, 9, 10, compet...
Moral Story
English Short, Moral Story “Appreciation of Hard Work" for Kids and Children for Class 5, 6, 7, 8, 9...
Moral Story
Hindi Moral Story "Shet Karori Mal”, "सेठ करोरी माल” for Kids, Full length Educational Story for Stu...
Children Story
English Short, Moral Story “The thief, the giant and the brahmin" for Kids and Children for Class 5,...
Moral Story
English Short, Moral Story “Encounter with a Ghost" for Kids and Children for Class 5, 6, 7, 8, 9, 1...
Moral Story
English Short, Moral Story “The Sun and The Wind" for Kids and Children for Class 5, 6, 7, 8, 9, 10,...
Moral Story
Short Story "The value of a copper coin" for Children, moral story for kids in English for competiti...
Children Story
English Inspirational Story “A Salesman - Par Excellence” Bedtime Moral Story for kids and Students.
Moral Story
English Short, Moral Story “A Horse and a Stag" for Kids and Children for Class 5, 6, 7, 8, 9, 10, c...
Moral Story
English Inspirational Story "Humility Speaks in Silence" Moral Story for kids and Students.
Moral Story
Hindi Moral Story "Moorkh Ghoda", "मूर्ख घोड़ा” for Kids, Full length Educational Story for Students...
Children Story

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *