Hindi Essay on “Christmas Festival”, “क्रिसमस का त्योहार” Hindi , Paragraph, Speech, Nibandh for Class 6, 7, 8, 9, 10 Students.

क्रिसमस का त्योहार

Christmas Festival

 

क्रिसमस ईसाई भाइयों का त्योहार है। इस त्योहार को ‘नाताल’ भी कहते हैं। भगवान ईसा का जन्म 25 दिसंबर को हआ था। इसी । खुशी में दुनियाभर में यह त्योहार मनाया जाता है। यह त्योहार 25 दिसंबर से 31 दिसंबर तक मनाया जाता है।

दिसंबर महीने के आखिरी सप्ताह में सब जगह नाताल का आनंद-उल्लास दिखाई देता है। ईसाई लोग तरह-तरह से अपने घर सजाते हैं। घर में नाताल का वृक्ष खड़ा किया जाता है। दरवाजों पर रंग-बिरंगी बल्बों के तोरण बाँधे जाते हैं। रास्तों पर विशाल आकार की कंदीलें लगाई जाती हैं। लोग नए-नए और बढ़िया कपड़े पहनते हैं। रोज रात को नाच-गान होता है। लोग क्रिसमस का केक खाते और खिलाते हैं।

इस दिन ईसाई लोग गिरजाघरों में जाकर प्रार्थना करते हैं। बच्चे ‘सांताक्लॉज’ से भेंट पाकर बहुत प्रसन्न होते हैं।

सचमुच, नाताल आनंद और उल्लास का अनोखा त्योहार है।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

This site is protected by wp-copyrightpro.com